☀जय श्री राम☀

 
☀जय श्री राम☀
(1) मन्त्र उपनिषद ब्राह्मनहुँ बहु पुरान इतिहास । जवन जराये रोष भरि करि तुलसी परिहास ॥ श्री तुलसीदास जी कहते हैं कि क्रोध से ओतप्रोत यवनों ने बहुत सारे मन्त्र (संहिता), उपनिषद, ब्राह्मणग्रन्थों (जो वेद के अंग होते हैं) तथा पुराण और इतिहास सम्बन्धी ग्रन्थों का उपहास करते हुये उन्हें जला दिया । (2) सिखा सूत्र से हीन करि बल ते हिन्दू लोग । भमरि भगाये देश ते तुलसी कठिन कुजोग ॥ श्री तुलसीदास जी कहते हैं कि ताकत से हिंदुओं की शिखा (चोटी) और यग्योपवित से रहित करके उनको गृहविहीन कर अपने पैतृक देश से भगा दिया । (3) बाबर बर्बर आइके कर लीन्हे करवाल । हने पचारि पचारि जन जन तुलसी काल कराल ॥ श्री तुलसीदास जी कहते हैं कि हाँथ में तलवार लिये हुये बर्बर बाबर आया और लोगों को ललकार ललकार कर हत्या की । यह समय अत्यन्त भीषण था । (4) सम्बत सर वसु बान नभ ग्रीष्म ऋतु अनुमानि । तुलसी अवधहिं जड़ जवन अनरथ किये अनखानि ॥ (इस दोहा में ज्योतिषीय काल गणना में अंक दायें से बाईं ओर लिखे जाते थे, सर (शर) = 5, वसु = 8, बान (बाण) = 5, नभ = 1 अर्थात विक्रम सम्वत 1585 और विक्रम सम्वत में से 57 वर्ष घटा देने से ईस्वी सन 1528 आता है ।) श्री तुलसीदास जी कहते हैं कि सम्वत् 1585 विक्रमी (सन 1528 ई) अनुमानतः ग्रीष्मकाल में जड़ यवनों अवध में वर्णनातीत अनर्थ किये । (वर्णन न करने योग्य) । (5) राम जनम महि मंदरहिं, तोरि मसीत बनाय । जवहिं बहुत हिन्दू हते, तुलसी किन्ही हाय ॥ जन्मभूमि का मन्दिर नष्ट करके, उन्होंने एक मस्जिद बनाई । साथ ही तेज गति उन्होंने बहुत से हिंदुओं की हत्या की । इसे सोचकर तुलसीदास शोकाकुल हुये । (6) दल्यो मीरबाकी अवध मन्दिर रामसमाज । तुलसी रोवत ह्रदय हति हति त्राहि त्राहि रघुराज ॥ मीरबकी ने मन्दिर तथा रामसमाज (राम दरबार की मूर्तियों) को नष्ट किया । राम से रक्षा की याचना करते हुए विदिर्ण ह्रदय तुलसी रोये । (7) राम जनम मन्दिर जहाँ तसत अवध के बीच । तुलसी रची मसीत तहँ मीरबाकी खाल नीच ॥ तुलसीदास जी कहते हैं कि अयोध्या के मध्य जहाँ राममन्दिर था वहाँ नीच मीरबकी ने मस्जिद बनाई । (8)रामायन घरि घट जँह, श्रुति पुरान उपखान । तुलसी जवन अजान तँह, कइयों कुरान अज़ान ॥ श्री तुलसीदास जी कहते है कि जहाँ रामायण, श्रुति, वेद, पुराण से सम्बंधित प्रवचन होते थे, घण्टे, घड़ियाल बजते थे, वहाँ अज्ञानी यवनों की कुरआन और अज़ान होने लगे। ________तुलसी दोहा शतक _______गोस्वामी तुलसीदास
Tag:
 
shwetashweta
creato da: shwetashweta

Vauta questa immagine:

  • Attualmente 5.0/5 stelle.
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5

32 Voti.


Condividi questo Blingee

  • Facebook Facebook
  • Myspace Myspace
  • Twitter Twitter
  • Tumblr Tumblr
  • Pinterest Pinterest
  • Condividi questo Blingee altro...

Link breve per questa pagina:

 

Stamp di Blingee utilizzati

7 grafici sono stati usati per creare questa immagine "shri ram".
Frame
soave background spring animated grass clouds blue white green
sun ©heena
c
WIOSNA SPRING  TRANSPARENT GRASS GREEN
☀जय श्री राम☀
Shri Ram text
 

Immagini di Blingee correlate

❤श्री श्यामा कुंजबिहारी❤
✨ॐ नमो भगवते वासुदेवाय✨
♥श्री राधा श्यामसुंदर♥
My showcase of frames♥read description
 

Commenti

mimib06

mimib06 ha detto:

108 days fa
wonderful 5***** stars
♥ Thank you for your V/C ♥
   I wish you a good day! 
BBB338

BBB338 ha detto:

125 days fa
Fantastic and very beautiful! 5*
ArisLollipop92

ArisLollipop92 ha detto:

126 days fa
✿ƸӜƷ✿  Hello Priyanka
✿,* (.(◔ .•).)¸.✿*¨) ..❤ Wonderful
 .'*(.(_.❤._).).╬═♥╬ (¸.✿¸.•¨¯`• Fantastic
 \¯¯(,,)-(,,)¯ ¯/.╬♥═╬   Magnificent
.¯\¯ ¯¯¯¯¯¯/¯  ╬═♥╬   5*****stars
 .. \______/      ╬♥═╬ I ♥ it, greetings from México.
elizamio

elizamio ha detto:

132 days fa
     ∧_∧
  ( =°ヮ°)つ:*♥ℒℴѵℯ.•*♡*•.¸
 •..(,(”)(”)¤°.¸¸.•´5 sᴛᴀʀs ❤
ZaharaBlue

ZaharaBlue ha detto:

133 days fa
Fantastic & very beautiful. 5*
m1a6c

m1a6c ha detto:

133 days fa
|\__/|   
(^Y^)--.-,
w-w__((__)
have a fine evening
my friend     
elizamio

elizamio ha detto:

134 days fa
╔═══════╗
♥ Aωєѕσмє ♥                      
╚═══════╝♥5ⓢⓣⓐⓡⓢ♥
24karatgold

24karatgold ha detto:

135 days fa
°·..·°¯°·._.· すごいアートワーク ·._.·°¯°·.·° 
°¯°·._.·AMAZING AS ALWAYS·._.·°¯°
·._.·THANKS FOR YOUR RATES·._.·
·..·°¯°·._.· AND COMMENTS·._.·°¯°·.· 
·°¯°·._.· LOVE YOUR FRIEND·._.·°¯° 
·°·..·°¯°·._.·24KARATGOLD·._.·°¯°·.· 

Desideri scrivere un commento?

Iscriviti a Blingee (per un account gratuito),
Accesso (se sei già un utente registrato).

I nostri partner:
FxGuru: Special Effects for Mobile Video